बवासीर के कीड़े कैसे होते हैं : यह खतरनाक समस्या कैसे उत्पन्न होती है

बवासीर के कीड़े कैसे होते हैं-बवासीर, जिसे पाइल्स भी कहा जाता है, एक प्रमुख स्वास्थ्य समस्या है जिसमें गुदा क्षेत्र में सूजन और दर्द का अनुभव होता है। यह समस्या किसी को भी हो सकती है और इसके कई कारण हो सकते हैं। इस लेख में, हम बात करेंगे कि बवासीर के कीड़े कैसे होते हैं और इसका इलाज क्या हो सकता है।

बवासीर क्या होते हैं?

बवासीर, जिन्हें पाइल्स भी कहा जाता है, गुदा क्षेत्र की नसों में सूजन के कारण होते हैं। यह सूजन बड़ी होने पर बहुत दर्दभरा हो सकता है और गुदा क्षेत्र की जलन और खुजली का कारण बन सकता है।

प्रेगनेंसी में पेट पर लाइन का मतलब ladka ya ladki

बवासीर के प्रकार

बवासीर के दो प्रकार होते हैं:

बाह्य बवासीर

बाह्य बवासीर या बाह्य पाइल्स वो पाइल्स (बवासीर) होते हैं जो शरीर के बाहरी हिस्सों में, खुजली और दर्द के साथ दिखाई देते हैं। इन्हें “बाह्य” इसलिए कहा जाता है क्योंकि ये बवासीर शरीर के बाहरी हिस्सों में होते हैं, जैसे कि गुदा के चारों ओर।

पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए

बाह्य बवासीर के कुछ सामान्य लक्षण निम्नलिखित होते हैं:

  1. गुदा के चारों ओर सूजन या गांठ की तरह लगना
  2. खून के आने की समस्या, जिसे बोला जाता है हेमोरेज (ब्लीडिंग)
  3. खुजली या जलन

इस समस्या का समाधान करने के लिए निम्नलिखित उपाय किए जा सकते हैं:

  1. उचित डाइट और फाइबर समृद्ध आहार का सेवन करें, जैसे कि फल, सब्जियां, और अन्य प्राकृतिक फाइबर स्रोत।
  2. पर्यापन के साथ पर्यापन का सेवन करें और पर्यापन के बाद पानी पिएं।
  3. अल्कोहल और तम्बाकू का सेवन कम करें, क्योंकि ये बवासीर को बढ़ावा देते हैं।
  4. डॉक्टर की सलाह लें और चिकित्सक द्वारा सुझाई गई दवाइयों का सेवन करें।

4 दिन से लैट्रिन नहीं हो रहा है

आंतरिक बवासीर

आंतरिक बवासीर, जिसे अंग्रेज़ी में “Internal Hemorrhoids” कहा जाता है, वो पाइल्स (बवासीर) होते हैं जो गुदा के अंदरी हिस्सों में होते हैं । ये बवासीर शरीर के अंदरी हिस्सों में उत्पन्न होते हैं, जिसके कारण उन्हें आंतरिक बवासीर कहा जाता है।

आंतरिक बवासीर के कुछ सामान्य लक्षण निम्नलिखित होते हैं:

  1. गुदा के अंदर दर्द या दर्द की अधिकता
  2. बवासीर के गुदा के अंदरी हिस्से में सूजन या गांठ की तरह लगना
  3. गुदा के अंदरी हिस्सों में खून के आने की समस्या, जिसे हेमोरेज (ब्लीडिंग) कहा जाता है

लैट्रिन में खून आना कैसे बंद करे

इस समस्या का समाधान करने के लिए निम्नलिखित उपाय किए जा सकते हैं:

  1. उचित डाइट और फाइबर समृद्ध आहार का सेवन करें, जैसे कि फल, सब्जियां, और अन्य प्राकृतिक फाइबर स्रोत।
  2. पर्यापन के साथ पर्यापन का सेवन करें और पर्यापन के बाद पानी पिएं।
  3. अल्कोहल और तम्बाकू का सेवन कम करें, क्योंकि ये बवासीर को बढ़ावा देते हैं।
  4. डॉक्टर की सलाह लें और चिकित्सक द्वारा सुझाई गई दवाइयों का सेवन करें।

बवासीर के कीड़े कैसे होते हैं

बवासीर के कीड़े कैसे होते हैं

बवासीर के कीड़े या हेमोरोइड का नाम एक प्रकार की रक्तवाहिका को कहा जाता है, जो गुदा क्षेत्र में पाई जाती है। ये कीड़े आमतौर पर रक्त और मांस के गुच्छों का प्राधिकृत रूप से विस्तार करते हैं और इससे गुदा क्षेत्र में सूजन और दर्द का अनुभव होता है।

लैट्रिन में खून आए तो क्या खाना चाहिए?

बवासीर के कीड़े के कारण

बवासीर के कीड़ों के कई कारण हो सकते हैं, जैसे कि:

  • कब्ज: यह सबसे सामान्य कारण है, जिसमें पेट साफ़ नहीं होने से रक्तवाहिकाओं में दबाव बढ़ जाता है।
  • बैठकर काम करना: यदि आप बैठकर काम करते हैं और दिनभर एक ही स्थिति में रहते हैं, तो इससे बवासीर का खतरा बढ़ जाता है।
  • गर्भावस्था: मां की गर्भावस्था में भी बवासीर का खतरा बढ़ जाता है।
  • व्यक्तिगत परिपर्णता: कुछ लोगों के शारीरिक स्वभाव के कारण ये समस्या हो सकती है।

एक ही रात में बाल झड़ने होंगे गारंटी से बंद

आहार और पेट साफ

कब्ज को दूर करने के लिए फाइबर युक्त आहार का सेवन करें और पेट साफ़ रखने के लिए प्रतिदिन पर्याप्त पानी पिएं।

घरेलू उपचार

हल्दी, त्रिफला, और अलोवेरा जैसे घरेलू उपचार बवासीर के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं।

सुरक्षा उपाय

बवासीर से बचने के लिए निम्नलिखित सुरक्षा उपायों का पालन करें:

  • अपने आहार में फाइबर युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें।
  • पेट साफ़ रखें और कब्ज से बचें।
  • बैठकर काम करते समय ठीक से बैठें और स्थिति बदलें।
  • लवाजमी स्वच्छता का ध्यान रखें।

बिकासुल कैप्सूल के लाभ

बवासीर से बचाव कैसे करें?

बवासीर से बचाव के लिए कुछ महत्वपूर्ण सावधानियाँ हैं:

  • फाइबर युक्त आहार का सेवन करें और पेट साफ़ रखें।
  • अधिक बैठकर काम करने से बचें और समय-समय पर खड़े होकर चलें।
  •  स्वच्छता का ध्यान रखें और गुदा क्षेत्र को साफ रखें।

1 महीने में 20 किलो वजन कैसे कम करें

FAQ:

1.क्या बवासीर संक्रमण हो सकता है?

हां, बवासीर संक्रमण हो सकता है जब गुदा क्षेत्र में कीड़े बढ़ जाते हैं। यह बवासीर के लक्षणों को और भी गंभीर बना सकता है।

2.क्या बवासीर घर पर ही इलाज किया जा सकता है?

हां, कुछ साधारण बवासीर के घरेलू उपचार और योगाभ्यास से बवासीर के लक्षणों को कम किया जा सकता है। लेकिन यदि लक्षण बढ़ जाते हैं, तो डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी होता है।

3.बवासीर के कीड़े कैसे बचाएं?

बवासीर के कीड़ों से बचाव के लिए निम्नलिखित सावधानियाँ अपनाएं:

  • फाइबर युक्त आहार का सेवन करें और पेट साफ़ रखें।
  • अधिक बैठकर काम करने से बचें और समय-समय पर खड़े होकर चलें।
  • स्वच्छता का ध्यान रखें और गुदा क्षेत्र को साफ रखें।

4.क्या बवासीर का इलाज आयुर्वेदिक तरीके से किया जा सकता है?

हां, आयुर्वेदिक तरीके से भी बवासीर का इलाज किया जा सकता है। आयुर्वेदिक चिकित्सक से सलाह लें और उनके सुझावों का पालन करें।

 

शादी के बाद पेट में दर्द क्यों होता है

20 साल पुराने सफेद दाग 3 दिनों में ठीक हो गई

महिला नसबंदी के बाद मोटी क्यों हो जाती है

डायबिटीज के लक्षण और उपाय

कॉपर टी लगवाने के बाद कितने दिन ब्लीडिंग होती है

पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए

दिमाग में बार-बार एक ही विचार आना

read more

 

1 thought on “बवासीर के कीड़े कैसे होते हैं : यह खतरनाक समस्या कैसे उत्पन्न होती है”

Leave a Comment

आधी रात खुल जाती है नींद? तो भगवान देते हैं आपको ये संकेत! रात को हल्दी वाला दूध पीने के चमत्कारी फायदे ruturaj gaikwad wife,Ruturaj Gaikwad Marriage “5 मिनट में पेट साफ कैसे करें: छुपे हुए 15 अद्भुत और अनसुने तथ्य”